26 मई से लीलाधर महाराज के सानिध्य में श्रीमद् भागवत रसवर्षण महोत्सव होगा

Bhagwat katha

जयपुर, 25 मई। श्रीमद् भागवत सप्ताह रस वर्षण महोत्सव सोडाला स्थित बैकुंठ नाथ जी का मंदिरका शुभारंभ शनिवार से होगा। जहां ज्येष्ठ की तपती गर्मी में विष्णु शरण जी महाराज द्वारा भागवत कथा के अनेको शीतल और मधुर प्रसंगो का भक्तगण आनंद लेंगे। गुरूकुल गोकुल धाम सेवा समिति के तत्वावधान में 7 दिवसीय भक्ति महोत्सव का आयोजन किया जा रहा है। जिसमें हर दिन सैकड़ों भगत भक्ति रस की धारा का ज्ञान और आनंद ले पायेंगे। कथा के आयोजक श्री श्री 1008 श्री लीलाधर गुरू महाराज के सानिध्य में कथा प्रवक्ता श्रद्धेय श्री विष्णु शरण जी महाराज के श्री मुख से सात दिवस तक भगत भागवत कथा के प्रसंग सुनेंगे।

Leeladhar Maharaj

सोडाला स्थित बैकुंठ नाथ जी का मंदिर में शनिवार को भागवत कथा शुरू होने से पहले भागवत पोथी पूजा के साथ कलश यात्रा बैंड-बाजे के साथ धूमधाम से निकलेगी। भव्य कलश यात्रा में सैकड़ों महिला और पुरुष भाग लेगे।

कलश यात्रा की शुरुआत सुबह 7ः30 बजे से श्री बैकुंठ नाथ जी का मंदिर सोडाला से शुरु होकर श्री गुरू निवास स्थान पर पहुंचेगी। गुरूजी श्री लीलाधर महाराज ने बताया की। कथा रोजाना दोपहर 1ः00 बजे से सायं 5ः00 बजे तक श्रीगुरू निवास 91-92 सीताराम मुंशी की गली, जमुना डेरी, अजमेर रोड, सोडाला जयपुर पर होगी, जहां कथा का वाचन श्री विष्णु शरण जी महाराज करेंगे।

कथा में पहले दिन भागवत महात्म्य एवं अमर कथा दूसरे दिन सुखदेव प्राकट परीक्षित जन्म, वराह अवतार, तीसरे दिन सती चरित्र जड़ भरत चरित्र, अजामिल उपाख्यान प्रहलाद चरित्र, चैथे दिन वामन अवतार, रामावतार कृष्ण जन्मोत्सव, पांचवे दिन कृष्ण बाल लीला, गोवर्धन पूजा, छठे दिन महारास लीला, गोपी उद्धव संवाद, रूकमणी विवाह और अंतिम दिन सुदामा चरित्र पर संक्षिप्त भागवत पूर्णाहूति के साथ भागवत कथा का समापन होगा।

Related posts

Leave a Comment