उदयपुर के प्रभारी मंत्री धनसिंह रावत ने किया विभिन्न योजनाओं के कार्यों का औचक निरीक्षण

उदयपुर के प्रभारी मंत्री धनसिंह रावत ने किया विभिन्न योजनाओं के कार्यों का औचक निरीक्षण
जयपुर। ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज राज्य मंत्री एवं उदयपुर जिले के प्रभारी  धनसिंह रावत ने उदयपुर की गिर्वा पंचायत समिति क्षेत्र में सोमवार को मुख्यमंत्री जल स्वावलम्बन अभियान द्वितीय चरण, स्वच्छ भारत मिशन, प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण), महात्मागांधी नरेगा योजना आदि योजनाओं के कायोर्ं का निरीक्षण किया। इस दौरान जिला प्रमुख श्री शांतिलाल मेघवाल, उदयपुर ग्रामीण विधायक श्री फूलसिंह मीणा, गिर्वा पंचायत समिति प्रधान तख्तसिंह शक्तावत, जलग्रहण के अधीक्षण अभियन्ता सी.एल.सालवी, विकास अधिकारी अजय कुमार आर्य, अधिशाषी अभियंता चन्द्रेश अग्रवाल एवं स्थानीय जनप्रतिनिधि मौजूद थे।
प्रभारी मंत्री ने डाकन कोटडा में एम.पी.टी., डीप सी.सी.टी., सी.सी.टी. स्टेगर्ड ट्रेन्च, एम.पी.टी., पी.आर.टी. रतना एवं ग्राम दईमाता देवाली में वन विभाग के स्टेगर्ड ट्रेन्च तथा डीप सी.सी.टी. वाटर हार्वेस्टिंग स्ट्रक्चर दईमाता, हिंदुस्तान जिंक के सी.एस.आर. अन्तर्गत कराये गये कार्य, जलग्रहण विकास विभाग द्वारा दईमाता में निर्मित पक्की एम.पी.टी.चतरा बाबा, एम.पी.टी.फूलएस. मीणा एम.पी.टी. विरजी आदि 15 कार्यों का औचक निरीक्षण किया। मौके पर मंत्री द्वारा एम.पी.टी. की भराव क्षमता बढाने हेतु डिसिलिंट कराने, वेस्ट वेयर को मापदण्ड अनुसार सही ढलान व स्टोन पिचिंग कार्य करते हुए सुरक्षित नाले में मिलाने, पी.आर.टी. को सुरक्षित करने के लिए अपस्ट्रीम में मिट्टी का भराव करने के निर्देश प्रदान किये। इसके साथ ही वाटर हार्वेस्टिंग स्ट्रक्चर दईमाता-4ए का निरीक्षण कर हेडवाल एक्सटेन्शन करने एवं कार्य की गुणवत्ता सूनिश्चित करते हुए कार्य को 10 दिवस में पूर्ण करने के निर्देश दिये।
इसके अतिरिक्त स्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण) अन्तर्गत दईमाता (देवाली) एवं काया में निर्मित शौचालयों के निरीक्षण के दौरान लाभार्थियों द्वारा शौचालयों का उपयोग करता पाया जाने पर प्रसन्नता जाहिर की करते हुए स्थानीय जनप्रतिनिधियों दूरस्थ ग्रामीण क्षेत्र में शौचालयों का निर्माण करा इनके उपयोग हेतु ग्रामीणों को प्रेरित करने पर धन्यवाद दिया।
प्रधानमंत्री आवास योजना एवं महात्मागांधी नरेगा योजना अन्तर्गत केटलशेड एवं भूमि समतलीकरण के कार्यों का निरीक्षण कर आवश्यक दिशा निर्देश दिये।

Related posts

Leave a Comment