राव राजा कल्याण सिंंह के समाज सेवा के कार्य सदैव याद रखे जायेंगे: परिवहन एवं सैनिक कल्याण मंत्री

जयपुर, 21 जून। परिवहन एवं सैनिक कल्याण मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने कहा कि राव राजा कल्याण सिंह के समाज सेवा के कार्य आज भी प्रदेश में अमर है जो प्रदेश के लिए गौरव की बात है क्योंकि वें सभी जाति धर्म के लोगों को साथ लेकर चलते थे तथा हमेशा गरीब लोगों की आवाज को उठाकर शेखावाटी का नाम बढ़ाया है। वे गुरूवार को सीकर में प्रधान जी के जाव में आयोजित राव राजा कल्याण सिंह की 133वीं जयन्ती के उपलक्ष में आयोजित सम्मान समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में सम्बोधित कर रहे थे। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि राव राजा कल्याण सिंह हमेशा सर्व समाज में प्यार व पे्रम के साथ मिलकर रहे व कभी भी ये नहीं सोचा कि ये मेरी सम्पति है। राव राजा कल्याण सिंह के रास्ते पर प्रदेश सरकार चल रही है। जिस तरह से वे जनता को मालिक मानते थे उसी तरह से प्रदेश की सरकार जनता को मालिक मानती है।

सम्मान समारोह में खाचरियावास ने कहा कि जनता को मालिक मानकर जनता के मान सम्मान की रक्षा व सम्मान करना हमारी जिम्मेदारी है तथा समाज के किसी भी जाति, धर्म के व्यक्ति को साथ में लेकर मदद करना, उसके साथ खड़ा होकर काम करना हम सब की जिम्मेदारी है।

कार्यक्रम में उच्च शिक्षा एवं राजस्व राज्यमंत्री भंवर सिंह भाटी ने राव राजा कल्याण सिंह को नमन करते हुए कहा कि सीकर में चाहे अस्पताल, कॉलेज, पुलिस लाईन सभी कल्याण सिंह के नाम से है। उनकी दूरगामी सोच थी कि सौ साल बाद आने वाली पीढ़ी को सुविधा मिले। उन्होंने अपनी सारी सम्पति सीकर की जनता को समर्पित की। उन्हाेंंने बताया कि शेखावाटी व सीकर वह क्षेत्र है जिसकी राजस्थान मेें शिक्षा में अलग पहचान बनी है तथा राजस्थान के किसी भी क्षेत्र में अधिकारी, कर्मचारी, शिक्षक, चिकित्साकर्मी, शेखावाटी के लोग कहीं भी मिल जायेंगे।

कार्यक्रम में उदयपुरवाटी विधायक राजेन्द्र सिंह गुढ़ा ने कहा कि पूरे देश में पुरानी रियासतों का एकीकरण करने के लिए हमारें पूर्वजों ने बेहतर प्रयास किए है। राव कल्याण सिंह ने आजादी के पूर्व सीकर जिलें को कल्याण अस्पताल, कॉलेज, स्कूल जैसी सौगात देकर फलीभूत किया है।

पूर्व विधायक मनोज न्यागंली ने कहा कि आज गौरव का दिन है कि हम सब सर्वसमाज के लोग उनकी जयन्ती मना रहे हैं। कार्यक्रम में जनप्रतिनिधियों सहित राजपूत समाज व सर्व समाज के कार्यकर्ता व महिलाएं, पुरूष व युवा मौजूद रहे।

Related posts

Leave a Comment